Deepawali

झुलस रहा माटी का कण कण उमड़ रही रसधार हैत्योहारों का देश हमारा, हमको इससे प्यार है Deepawali जब भी कोई भी त्योहारों की तैयारी होते देखती हूं मुझे कवि…

0 Comments

Father’s Day Special Poem चन्द पंक्तियाँ पापा के नाम …

पापा”, ये शब्द  सुनते ही दिल मे एक हिफाज़त का भाव आता है, लगता है के चाहे सारा जहान  हमारे खिलाफ हो अगर ‘पापा’ अगर हमारे साथ है तो हम…

18 Comments